SNP TECHNICAL

snp technical

अगर आप को कोई सहायता चाहिए तो Comment / Contact Form Fill Up कर बता सकते हो, आपकी पूरी सहायता करने का प्रयास करेगे | धन्यवाद

Image and PDF Editor || UTI Cropping Tools || SEARCH VEHICLE All Information

Latest Update

  • UTI पैन कार्ड पोर्टल सबसे फास्ट पोर्टल OFFER *****OFFER संपर्क करें.* ���� 9672564095 UTI PSA LOGIN PAN ID �� ADMIN-5000/- COUPON RATE 96 RUPEES, 11 rupees commission par pan card, SUPER DISTRIBUTER-1000 COUPON RATE 97 RUPEES, 10 rupees commission par pan card ���� Distributor id : 500/- COUPON RATE 98 RUPEES, 9 rupees commission par pan card ���� Retailer id : 99/- COUPON RATE 105 RUPEES , 2 rupees commission par pan card (Unlimited Retailer Bana Sakte h) सबसे फास्ट पोर्टल पे पैन कार्ड बनाए https://www.psaonline.utiitsl.com/psaonline/ पैन कार्ड ...UTI के माध्यम से बनाये .. आप सभी के लिए लाये हे CARD सर्विस जिसमे आप सभी अब अपनी शॉप में बैठकर ही सभी का ऑनलाइन PAN CARD बना सकते हे | इसके लिए आपको UTI PAN CARD की AGENCY लेनी होगी | SNPTECHNICAL.CO.IN Contact No. 919672564095

Tuesday, April 14, 2020

aayush mantralay guidelines | आयुष मंत्रालय ने जारी किए दिशा-निर्देश,बताए इम्युनिटी मजबूत करने के उपाय

आयुष मंत्रालय ने जारी किए दिशा-निर्देश,बताए इम्युनिटी मजबूत करने के उपाय,





                    

कोरोना वायरस के बीच लोगों की इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए आयुष मंत्रालय ने कुछ निर्देश जारी किए हैं, 

जिन्हें पीएम मोदी ने ट्विटर के माध्यम से शेयर किया है। आप भी जानें क्या हैं ये निर्देश...




                                           aayush mantralay guidelines 


इस वक्त पूरे विश्व में एक ही नाम गूंज रहा है और वह है कोरोना। इसकी दहशत दिन-प्रतिदिन बढ़ती जा रही हैं। लेकिन अगर कोरोना को हराना है तो हमें हमारी प्रतिरोधक क्षमता बढ़ानी होगी जिससे कि कोरोना बेअसर हो जाए।


इसी बीच आयुष मंत्रालय (Ayush Ministry) ने कोरोना वायरस को ध्यान में रखते हुए और इम्युनिटी सिस्टम को मजबूत करने के लिए कुछ उपायों के बारे में बताया है जिससे कि हम खुद की देखभाल कर सकें और खुद को अंदर से मजबूत बना सकें।
आयुष मंत्रालय ने मंगलवार को अपनी देखभाल हम कैसे कर सकते हैं तथा दिनचर्या में कुछ बदलाव करके इस बारे में जानकारी दी। खासतौर पर इन दिशा-निर्देशों में श्वसन संबंधी उपायों का जिक्र है। आयुष मंत्रालय ने जो दिशा-निर्देश जारी किए हैं, वे आयुर्वेदिक साहित्य और वैज्ञानिक प्रकाशनों पर आधारित हैं।

मंत्रालय ने कहा कि कोविड-19 के चलते दुनियाभर में लोग इससे काफी प्रभावित हैं। अच्छे स्वास्थ्य के लिए शरीर की प्राकृतिक रक्षा प्रणाली को मजबूत करना सबसे महत्वपूर्ण है। इसमें बताया गया है कि इलाज से बेहतर रोकथाम होती है। इसके लिए हमें अपनी इम्युनिटी को बढ़ाने की जरूरत है।
कुछ उपायों को बताते हुए आयुष मंत्रालय ने कहा है कि दिनभर गर्म पानी पीएं, कम से कम 30 मिनट तक योग का अभ्यास, प्राणायाम और ध्यान लगाना बहुत महत्वपूर्ण है। भोजन पकाने के समय इसमें हल्दी, जीरा और धनिया जैसे मसालों का इस्तेमाल करने की सलाह दी गई है।

कोरोना वायरस के बीच लोगों की इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए आयुष मंत्रालय ने कुछ निर्देश जारी किए हैं, जिन्हें पीएम मोदी ने ट्विटर के माध्यम से शेयर किया है। आप भी जानें क्या हैं ये निर्देश... पीएम मोदी ने आयुष मंत्रालय के कुछ निर्देश शेयर किए हैं। कोरोना वायरस के चलते देश में बने संकट के माहौल के बीच प्रधानमंत्री मोदी ने अपने ट्विटर हैंडल से आयुष मंत्रालय द्वारा जारी किए गए कुछ निर्देश शेयर किए हैं, जिनसे लोगों को उनके स्वास्थ्य और इम्यूनिटी को बेहतर करने में मदद मिलेगी। ये टिप्स शेयर करते हुए पीएम मोदी ने बताया है कि वे खुद भी इन निर्देशों का वर्षों से पालन कर रहे हैं। प्रधानमन्त्री मोदी ने इसके साथ लोगों से इसे अपनाने और दूसरों के साथ भी साझा करने की अपील की है। इस ट्वीट में उन्होने कुछ तस्वीरें शेयर की हैं, जिनमें रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए कुछ सामान्य उपाय बताए हैं, जो कुछ इस प्रकार हैं- पूरे दिन सिर्फ गर्म पानी पिएं। हर दिन कम से कम 30 मिनट तक योगासन, प्राणायाम और ध्यान करें। हल्दी, जीरा, धनिया और लहसुन आदि मसलों का प्रयोग भोजन बनाने में करें। रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए आयुर्वेदिक उपाय बताए हैं, जो कुछ इस प्रकार हैं- हर सुबह 10 ग्राम च्यवनप्राश लें। जो मधुमेह के रोगी हैं वे शुगर फ्री च्यवनप्राश ले सकते हैं। तुलसी, दालचीनी, कालीमिर्च, सूखी अदरक और मुनक्का से बनी हर्बल टी दिन में एक से दो बार पिये। स्वाद के अनुसार इसमें गुड़ या नींबू रस भी मिलाया जा सकता है। 150 गर्म दूध में आधा चम्मच हल्दी चूर्ण दिन में एक से से दो बार लें। इसी के साथ कोविड-19 (कोरोना वायरस) के दौरान खुद की देखभाल और रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए आयुर्वेदिक उपाए भी बताए गए हैं- सुबह और शाम तिल/नारियल का तेल या घी नाक के दोनों छिद्रों में लगाएँ। केवल 1 चम्मच तिल/नारियल तेल को मुंह में लेकर दो से तीन मिनट कुल्ले की तरह मुंह में घुमाएँ, उसके बाद उसे थूक दें। फिर गर्म पानी से कुल्ला करें। यह प्रक्रिया दिन में एक से दो बार करनी है। अगर गले में खराश हो तो- दिन में कम से कम एक बार पुदीना के पत्ते/अजवाइन डाल कर पानी की भाप लें। खांसी या गले में खराश होने पर लौंग के चूर्ण में गुड़ या शहद मिलाकर दिन में दो से तीन बार लें। अगर ये लक्षण फिर भी बने रहते हैं तो ऐसे में डॉक्टर की सलाह लें। कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप को रोकने के लिए पीएम मोदी ने देश में 21 दिनों के लॉक डाउन की घोषणा की है, जो 14 अप्रैल तक चलेगा। इसी के साथ पीएम मोदी ने देशवासियों से सोशल डिस्टेन्सिंग पर भी अमल करने की अपील की है। शुक्रवार सुबह 9 बजे तक देश में कोरोना वायरस 2566 केस सामने आ चुके हैं, जिनमें से अब तक 191 लोग रिकवर हुए हैं। महाराष्ट्र, तमिलनाडु, दिल्ली और केरल सबसे अधिक प्रभावित राज्यों में से हैं।

इम्युनिटी को मजबूत करने के लिए मंत्रालय ने सुबह 1 चम्मच च्यवनप्राश खाने की सलाह दी है। जो डायबिटीज के रोगी हैं, उन्हें बिना शुगर वाला च्यवनप्राश खाने की सलाह दी गई है।
आयुष मंत्रालय ने अपनी गाइडलाइन में कहा है कि दिन में 1 या 2 बार हर्बल चाय पीएं या तुलसी, दालचीनी, कालीमिर्च, सूखी अदरक और किशमिश का काढ़ा पीने और 150 मिलीलीटर गर्म दूध में आधा चम्मच हल्दी डालकर पीने की सलाह दी है।

मंत्रालय ने अपने बयान में कहा है कि सुबह और शाम अपने दोनों नथूनों में तिल या नारियल का तेल या घी लगाएं, जैसे कि आयुर्वेदिक उपाय बताए गए हैं। मंत्रालय के मुताबिक देशभर के जाने-माने डॉक्टरों ने इन उपायों के बारे में जानकारी दी है, जो व्यक्ति की इम्युनिटी को बढ़ाने में बेहद कारगर हैं।
सूखी खांसी के लिए दिन में 1 बार पुदीने की ताजा पत्ती या अजवाइन के साथ भाप लेने के बारे में भी बताया गया है, वहीं खांसी या गले में खराश होने पर दिन में 2-3 बार प्राकृतिक शकर या शहद के साथ लौंग का पाउडर लेने के लिए सलाह दी है।

मंत्रालय का कहना है कि ये उपाय आमतौर पर सामान्य सूखी खांसी या गले में सूजन इन उपायों से कम होती है। यदि लक्षण फिर भी बने रहते हैं और ठीक नहीं होते तो डॉक्टर को अवश्य दिखाएं।

No comments:

Post a Comment